SQL kya hai – SQL के हिंदी में पूरी जानकारी

SQL kya है – कैसे काम करती है? यदि आपके मन में यह सवाल अभी भी घूम रहा है! तो SQL को बेहद सरल शब्दों में समझने के लिए आप इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें! SQL (Structure Query Language)

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि भाषा मनुष्य के जीवन मे बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका रखती हैं। भाषा वो साधन है जिसकी सहायता से मनुष्य अपने विचारों को दूसरों के सामने प्रकट करता हैं। फिर आप सोचिए की computer किस तरह से काम करता होगा? क्या उसकी कोई भाषा होती हैं ? फिर आपके मन मे एक नया प्रश्न आएगा कि कंप्यूटर किस तरह से कोई निर्देश या आदेश देता होगा ? दोस्तों आप के मन में उठे सारे प्रश्नों का जवाब यहां मिल जायेगा ।

SQL kya hai - SQL के हिंदी में पूरी जानकारी

जी हाँ , जिस प्रकार मनुष्य अपने विचारों को किसी के सामने प्रकट करने के लिये भाषा का उपयोग करते हैं । ठीक उसी तरह कंप्यूटर की भी भाषा होती हैं SQL तो इससे पूर्व की हम SQL के बारे में जानें उससे पहले जानते हैं

यह पोस्ट भी पढ़े : CRPF kaise Join kare ? यहां जाने CRPF बनने के लिए योग्यता व एग्जाम पैटर्न

SQL की full form क्या है ?

SQL , जिसका पुरा नाम “Structured Query Language” हैं।

SQL क्या हैं ?

SQL कंप्यूटर भाषा के रूप में काम करती हैं । यह database को निर्देश देती है की उसे कैसे काम करना है। आप SQL की सहायता से database में कभी भी आवश्यकतानुसार परिवर्तन कर सकते हैं ।

SQL , database को आदेश देता है कि उसे क्या काम करना हैं। इसकी मदद से आप database में जरूरत के मुताबिक नई information डाल सकते हैं और database में पहले से उपस्थित information को हटा सकते हैं ।

SQL केवल database में परिवर्तन करने मे ही सहायता नहीं करता यह विभिन्न प्रकार की query को run करने में भी सहायता करता हैं।

विभिन्न प्रकार के database management system , SQL को एक standard database language के रूप में प्रयोग करते है! जिनमे RDBMS (Relational Database Management System) मुख्य है । SQL के कार्य को समझें तो जब आप पहली बार कोई Aap , website , game में login करते हैं तब आपको एक registration form भरना पड़ता है।

उस form से आप google या facebook ID की मदद से directly login कर सकते है । या फिर उस registration form में अपना नाम , फ़ोन नंबर और अन्य जानकारी भर कर submit button पर click करते है तो सारी जानकारी उस App, Website या Game में save हो जाती हैं।

यह पोस्ट भी पढ़े : IAS officer kaise bane ? यहां जाने IAS ऑफिसर बनने के लिए योग्यता व एग्जाम पैटर्न

SQL काम कैसे करता है ?

जैसे ही आप submit button पर click करते हैं तो back end में SQL एक command generate करता है! और database के ऊपर दिए गई जानकारी को data के रूप में store करने का instruction देता हैं।

यानी registration form भरने से database में data store करने के मार्ग में जो भी communication हो रहा है वो SQL की भाषा में होती हैं ।फिर आप यह सोच रहे होंगे कि यह Database और Query क्या हैं

Database और Query क्या हैं ?

SQL kya hai - SQL के हिंदी में पूरी जानकारी

DATABASE :

Database को समझने से पहले हम data को समझें तो data विचार में उपस्थित वो तथ्य है जो किसी वस्तु से संबंधित होता हैं ।

उदाहरण के लिए Name, Age , Height, Weight, आदि Data हैं।इसके अलावा pictures, pdf , mails, files आदि को भी data माना जा सकता है।

आपने कभी सोचा है कि जब आप, पहली बार internet में अपना information किसी App या Website पर डालते है तो फिर वो information कैसे बहुत सालो तक आप के phone में save रहता है । और अगर गलती से delete भी हो जाये तो वापस restore कैसे होता हैं । यह सब काम database के मदद से होता है।

अगर हम अपने शब्दों में कहे तो, database एक प्रकार का भंडार ग्रह (warehouse) हैं। जो data को collect करने , organised करने और manage करने का कार्य करता हैं। Database हमे, हमारे मर्जी के अनुसार उसमे उपस्थित data में परिवर्तन करने की स्वीकृति देता है । Database को और भी सरल शब्दों में समझाने के लिये कुछ उदाहरण का प्रयोग करते है :

सबसे पहले हम उस उदाहरण का प्रयोग करेंगे जो आपके जीवन में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं facebook में जब आप पहली बार अपना profile बनाते है । तब उस समय आप , जो अपना details डालते है जैसे name, phone number, qualification, interests, political views आदि उसे database, manage करता है।और इन informations ko database उन लोगो को देता है जो आपके profile को open करता हैं।

ये data हमेशा के लिये आपके profile, में store हो जाता है। उस data को आप कभी भी edit कर सकते है , कभी भी delete कर सकते है और सालों तक आपका यह डाटा फेसबुक के डेटाबेस में Save होता है! और आप कभी भी उसमे आप नई information भी डाल सकते हैं। और SQL भाषा Database को command और instructions देता है इन सभी कार्यों को करने के लिये।

एक Organisation जो अपना प्रोडक्ट अपने target costumers को बेचते हैं वो अपने ग्राहको को हर प्रकार की सुविधा प्रदान करने का प्रयास करते हैं। और ग्राहकों को सुविधा देने हेतु कंपनी अपने clients का नाम, फोन नंबर, इमेल्स अन्य संपर्क विवरण, आदि से संबंधित data को संग्रहीत करने के लिए डेटाबेस का उपयोग करती हैं।

यह पोस्ट भी पढ़े : Ips officer kaise bane ? यहां जाने ips ऑफिसर बनने के लिए योग्यता व एग्जाम पैटर्न

QUERY :

Query , database में उपस्थित data table से data और information प्राप्त करने के लिये किया जाने वाला एक request हैं। यह data, SQL (structured query language) द्वारा दिये गए command के result के रूप में या picture, graph , table या अन्य complicated table के रूप में , जैसे data mining tool द्वारा उत्पन्न किया गया trend analysis है।

चलिये अब जानते हैं कि Query कितने प्रकार के होते हैं ?

Query चार प्रकार की होती हैं :

  • Insert Query
  • Select Query
  • Updated Query
  • Delete Query .

Insert Query : इस query की सहायता से database में पहले से उपस्थित data में नए information को डाल सकते हैं। for example : आप कोई नया data उस database में insert कर सकते हैं या उसमे कोई नई जानकारी डाल सकते हैं।

Select data : इस query से हम database में उपस्थित data को select कर सकते हैं या फिर उस information को प्राप्त कर सकते हैं । उदाहरण के लिए : मान लीजिये की कोई student table किसी database मे उपस्थित है। तो हमे उस student table की मदद से यह पता चलेगा कि उसमें किस प्रकार का data मौजूद हैं । जैसे कि student का name, roll no, और class इत्यादि का पता चलता हैं

Update Query : इस query की मदद से database में उपस्थित data में विभिन्न प्रकार के परिवर्तन कर सकते हैं ।

Delete Query : इस query की सहायता से हम database में उपस्थित data table से किसी भी data को delete कर सकते हैं ।

यह पोस्ट भी पढ़े : WordPress में Blog kaise Banaye पूरी जान करि हिंदी में

SQL का इतिहास (History of SQL in hindi) ?

SQL जिसका पूरा नाम Structure Query Language है। उसे सबसे पहले 1970 के दशक के दौरान IBM के शोधकर्ता जिनका नाम रेमंड बॉक्स और डोनाल्ड चेम्बरलिन है उनके द्वारा विकसित किया गया था। प्रोग्रामिंग के इस भाषा को उस समय में SEQUEL के रूप में जाना जाता था। इस भाषा को 1970 में एडगर फ्रैंक टॉड के पेपर जिसका नाम ,”ए रिलेशनिशियल मॉडल ऑफ डेटा फॉर बिग शेयरेड डेटा बैंक्स” है में प्रकाशन के बाद बनाया गया था।

अपने पेपर जिसमे , टॉड ने यह प्रस्ताव रखा कि एक Database में उपस्थित सभी data को एक निश्चित संबंधों के रूप में दर्शाया जाए। “ओरेकल क्विक गाइड्स (कॉर्नेलियो बुक्स 2013)” नामक पुस्तक में, एक प्रतिष्टित लेखक मैल्कम कॉक्सल लिखते हैं कि original SQL version को आईबीएम के original database में संग्रहीत data को Manipulate करके फिर उसे पुनर्प्राप्त करने के उद्देश्य से डिज़ाइन किया गया था, जिसे “सिस्टम आर” कहते हैं।

जैसा कि हमने आपको बताया कि SQL क्या हैं ?और SQL के पीछे का इतिहास क्या हैं? चलिये अब जानते हैं कि इसका काम क्या है। इसका computer में क्या उपयोग है।

यह पोस्ट भी पढ़े : Free Blog kaise banaye पूरी जान करि हिंदी में

SQL का उपयोग (Uses of SQL in Hindi)

  • SQL जो एक language हैं उसकी सहायता से हम नया database create कर सकते हैं।
  • हम किसी भी database में मौजूद data को retrieve भी कर सकते हैं। जैसे कि database में दिए information को उपयोग कर सकते हैं।
  • Database में पहले से मौजूद data जो data table में उपस्थित होते है उनमें नया information insert कर सकते हैं।
  • Database में उपस्थित data को update या modify भी कर सकते हैं ।
  • यदि हमें लग रहा है कि database में उपस्थित data सही नहीं है तो उसे SQL के जरिए delete भी कर सकते हैं।
  • इसके मदद से आप database में कोई नया table create कर सकते हैं और उस table में information भी डाल सकते हैं।
  • इसकी सहायता से आप database में पहले से मौजूद table को delete भी कर सकते हैं।
  • अन्य विभिन्न प्रकार के काम जैसे views, stored procedure, functions आदि createभी कर सकते हैं।
  • इसकी सहायता से आप settings का भी काम कर सकते हैं । जैसे table, procedures, और view के लिये भिन्न-भिन्न permission भी set कर सकते हैं।

ऊपर दिए गए उपयोग को जानने के बाद अब यह परिणाम आता है कि database में जितने भी काम होते है सब SQL (structure query language ) की सहायता से ही होता हैं।

Website में SQL का क्या काम हैं – SQL website in hindi

जैसा कि हम जानते हैं Internet पर विभिन्न प्रकार के dynamic websites मौजूद हैं । उदाहरण के रूप में कहा जाए तो सोशल मिडिया साइट्स, विभिन्न प्रकार के ऑनलाइन बैंकिंग साइट्स , रेलवे रिजर्वेशन साइट्स आदि dynamic websites , database से जुड़े होते हैं। और आप जान ही चुके हैं कि जब बात database की होती है तो वहां SQL का उपयोग जरूर होता हैं।

यह पोस्ट भी पढ़े . NPS क्या है ? जानिए NPS Account कैसे खोले पूरी जान करि !

चलिये अब जानते हैं कि एक live website में SQL क्या भूमिका निभाता हैं।

आपकी जानकारी के लिये हम आपको बता दे कि किसी भी वेबसाइट में SQL का कोई direct प्रयोग नहीं हैं! इसके लिये कई चीजें एक साथ मिलकर काम करना जरूरी हैं । और इसके लिये कुछ चीजों की जरूरत पड़ती है जैसे :

Database management system programme जिन्हें छोटे शब्द में (DBMS programme) कहते है । इसका उपयोग होता हैं। MySQL, SQL server , Oracle , MS Access , sqlite आदि सब DBMS Programme के उधारण हैं। Server side scripting (SSS) इनका उधारण PHP, ASP आदि हैं।

  • SQL द्वारा दिये गए command ,
  • Hypertext transfer protocol (HTTP),
  • CSS (cascading style sheet).

SQL, database को किसी भी काम को करने के लिये अनेक प्रकार का commands प्रदान करती हैं । SQL अपनी command विभिन्न प्रकार के कार्यो को करने के उद्देश्य से करती हैं। ये commands 5 प्रकार के होते हैं । जिनका नाम नीचे दिए गए विवरण में देख सकते हैं :

  • DDL(Data Definition Language),
  • DML(Data Manipulation Language),
  • DQL(Data Query Language),
  • DCL(Data Control Language),
  • TCL(Transaction Control Language).

Data Definition Language (DDL) :Database में उपस्थित data table की भौतिक संरचना में परिवर्तन करने के लिये। SQL, DDL language का उपयोग करता है। ये commands, automatically काम करती हैं, एक बार command जाहिर करने के बाद सारे changes जो table पर दिखाई देते है वो जल्द से जल्द save हो जाती हैं। DDL,आदेशों में SQL DDLआदेश भी शामिल होता हैं।

Data manipulation language (DML):एक बार जब DDL द्वारा दिये गए आदेशों का उपयोग करके table का निर्माण किया जाता हैं और फिर एक नया डेटाबेस को उत्पन्न किया जाता है, तब उन table के अंदर उपस्थित data में हेरफेर और डेटाबेस में हेरफेर DML द्वारा दिये गए आदेशों का उपयोग करके किया जाता है।

DML command का उपयोग करने के पीछे का उद्देश्य यह है कि यदि कोई गलती दिखाई देती है तो उसमें अपने सुविधा के अनुसार हम परिवर्तन कर सकते है या कोई नया मान बना सकते है।

  1. Data control language (DCL): DCL command जैसा कि नाम से ही प्रतीत होता है कि यह वो command हैं जिसकी सहायता से किसी भी Database में उपस्थित data को control करने से संबंधित मामलों और मुद्दों का मैनेजमेंट करने का कार्य होता है।
  2. TCL (Tool command language): TCL command वो command है जो मुख्य रूप से उपयोगकर्ताओं को विशेष तौर से विशेषाधिकार प्रदान करने का कार्य करता है । साथ ही इसका उपयोग विभिन्न उपयोगकर्ताओं की भूमिकाओं को निर्दिष्ट करने के लिए भी किया होता हैं। आमतौर पर यह SQL द्वारा इस्तेमाल होने वाले मुख्य commands में से एक हैं।

Data Query Language (DQL):

Data query language में केवल एक ही कमांड होती है जिसके ऊपर SQL द्वारा data का चयन निर्भर करता है। DQL command के अंदर अन्य कई command भी शामिल रहती हैं । जो data को database से retrieve और fetch करने में सहयोग प्रदान करती हैं।

यह पोस्ट भी पढ़े : Doctor kaise bane ? यहां जाने Doctor बनने के लिए योग्यता व एग्जाम

Conclusion

तो साथियों आज के इस आर्टिकल में बस इतना ही मुझे आशा है। SQL क्या है? SQLकैसे काम करता है इस विषय पर पूरी जानकारी आपको इस आर्टिकल में मिली होगी कोई और सवाल हो तो आप कमेंट बॉक्स में हमें बता सकते हैं साथ ही जानकारी पसंद अाई हो तो आप इसे सोशल मीडिया जैसे फेसबुक एवं whatsapp पर भी जरूर शेयर करें। Thanks for visiting in this blog https://tagifind.com/

TECHNOLOGY

Leave a Reply