साइंटिस्ट बनने के लिए क्या करें (वैज्ञानिक कैसे बनें) Scientist kaise bane

Scientist Kaise Bane? साइंटिस्ट बनने के लिए योग्यताएं व परीक्षा की पूरी जानकारी!

  • Scientist Banne Ke Tips
  • कैसे आप एक साइंटिस्ट बन सकते हैं?

हेलो दोस्तों स्वागत है आपका tagifind साइट पर! आज हम एक नए टॉपिक के साथ हाजिर है, जिसमें हम जानेंगे कि Scientist कैसे बने?

दोस्तों हमारे देश में हज़ारों ऐसे विद्यार्थी, युवा होते हैं जिनका सपना भविष्य में एक वैज्ञानिक बनना होता है! हमारे देश में साइंटिस्ट होना एक उच्च सम्मान की बात होती है। परंतु क्या सभी यह सम्मान अर्जित कर पाते हैं! जी नहीं क्योंकि जिस तरह प्रतियोगिता आज अन्य पदों के लिए हैं ठीक उसी तरह एक साइंटिस्ट को भी उच्च-प्रतियोगिता का सामना करना पड़ता है!

भारत के महान साइंटिस्ट में से एक डॉक्टर APJ अब्दुल कलाम का सपना एक साइंटिस्ट बनना था! जो उन्होंने साकार करके दिखाया!

क्या आपके अंदर भी वही जुनून है एक साइंटिस्ट बनने का! यदि हां तो आज का लेख आपके लिए ही है। दोस्तों अक्सर कई सारे विद्यार्थी साइंटिस्ट बनना तो चाहते हैं परंतु उन्हें साइंटिस्ट बनने का तरीका पता नहीं होता! इसलिए वह अपने सपने की ओर एक कदम भी बढ़ा नहीं पाते!

इसलिए आज हम साइंटिस्ट के विषय पर विस्तारपूर्वक चर्चा करेंगे! तथा वे सभी जरूरी चीजें जानेंगे कि एक साइंटिस्ट कैसे बने? कितनी एजुकेशन चाहिए! और एक साइंटिस्ट बनने के लिए क्या-क्या कार्य करने होते हैं। चलिये बिना समय गवाये सबसे पहले जानते हैं की

साइंटिस्ट कौन होता है?

विकीपीडिया के अनुसार एक साइंटिस्ट वह व्यक्ति होता है जो अपने इंटरेस्ट (रुचि) के क्षेत्र में ज्ञान को आगे बढ़ाने के लिए वैज्ञानिक रिसर्च करता हो!

अर्थात आपका जिस भी विषय में इंटरेस्ट है उस पर आप वैज्ञानिक अनुसंधान करते हैं तो आप एक साइंटिस्ट कहलाएंगे!

दोस्तों इस प्रकार हमने साइंटिस्ट की परिभाषा जानी! लेकिन साइंटिस्ट कितने प्रकार के होते हैं?

साइंटिस्ट कई प्रकार की हो सकते हैं यह उनके रुचि पर निर्भर करता है कि वह किस फील्ड में खोज तथा उसका विस्तार करते हैं!

जैसे यदि Physics Chemistry तथा Biology आपका इन तीनों में से जिस फील्ड में अधिक इंटरेस्ट होगा! आप उसमें अपना कैरियर बना सकते हैं!

जैसे फिजिक्स के अंतर्गत Space रिसर्च साइंटिस्ट या इलेक्ट्रिसिटी या माइक्रो इलेक्ट्रिसिटी पर कुछ रीसर्च करना।

इसके अलावा यदि आपको Chemistry के अंतर्गत परमाणु (atoms) के विषय पर कुछ रिसर्च करनी हो या फिर Biology के अंतर्गत मानव जीवन की कोशिकाओं या शरीर से जुड़ी अन्य प्रकार की जानकारी की खोज करनी है तो आप केमिस्ट्री या बायोलॉजी साइंटिस्ट बन सकते हैं!

तो दोस्तों संक्षेप में कहें तो “आपका इंटरेस्ट किसी भी क्षेत्र में हो सकता है तो आप उस क्षेत्र में साइंटिस्ट बन सकते हैं! मान लीजिए यदि आपने इलेक्ट्रिक कार की बारे में रिसर्च की था एक इलेक्ट्रिक कार का निर्माण किया तो इस तरह आप भी एक साइंटिस्ट के कहे जाएंगे!

Scientist बनने के लिए आवश्यक क्वालिटी

साइंटिस्ट बनने के लिए आपके भीतर यह निम्नलिखित गुण होने चाहिए

Curious (उत्सुकता)

दोस्तों यदि आप साइंटिस्ट बनना चाहते हैं तो curosity आपके भीतर होना बेहद जरूरी है! इसे उदाहरण की सहायता से समझते हैं! आपने अल्बर्ट आइंस्टाइन का नाम तो जरूर सुना होगा जिन्होंने गुरुत्वाकर्षण के सिद्धांत की खोज की थी।

दोस्तों जरा सोचिए! उनके जन्म से पहले भी हजारों, लाखों पेड़ में से फल गिरे होंगे लेकिन उनकी Curosity ने ही उनके दिमाग में प्रश्न पैदा किया क्या आखिर save नीचे क्यों गिरता है?

तो दोस्तों इस तरह अल्बर्ट आइंस्टीन एक महान साइंटिस्ट बने! तो दोस्तों यदि आपके मन में भी किसी चीज को लेकर सवाल आते हैं? Why what कि यह चीज क्यों होती है इसके क्या कारण है! तो आप एक अच्छे साइंटिस्ट बन सकते हैं।

क्योंकि एक साइंटिस्ट के लिए चीजों को जानने के लिए उत्सुकता का होना अनिवार्य होता है! जो साइंटिस्ट को नई नई चीजों के बारे में जानने तथा उनके कारणों को उजागर करने में साहयता करता है!

समस्या का समाधान

साइंटिस्ट बनने के लिए आपके दिमाग को Problem Solving , idea आने चाहिए उदाहरण के लिए यदि आपको लगता है कि ऐसी कोई समस्या है जिसका समाधान समाज के लिए हितकारी होगा! और आप रिसर्च कर आप उस समस्या का समाधान कर सकते हैं तो आपके भीतर यह वह दूसरी खूबी है जो अच्छे साइंटिस्ट बनने में मदद करेगी!

थ्योरी & प्रैक्टिकल ज्ञान

यदि आपको Science क्रियाकलापों के बारे में किताबी ज्ञान है! परंतु आप प्रैक्टिकली उस चीज को करना नहीं जानते तो आपके साइंटिस्ट बनने की राह में मुख्य बाधा आ सकती है।

क्योंकि एक साइंटिस्ट होने के लिए थ्योरी के साथ साथ उस चीज के ज्ञान को प्रैक्टिकली करना आना चाहिए। क्योंकि theory का ज्ञान आपको सिर्फ एक “प्रोफ़ेसर” बनाएगा लेकिन यदि आप theory के साथ-साथ प्रेक्टिकल उन चीजों को करते हैं तो आप एक अच्छे साइंटिस्ट बन सकते हैं!

धैर्य  ( Patience )

दोस्तों कई बार एक साइंटिस्ट को रिसर्च के दौरान कई साल लग जाते हैं! जिसमें एक धैर्य का होना बेहद जरूरी है। इसका सबसे अच्छा उदाहरण Thomas alva edison है जिन्होंने 1000 बार फेल हो कर भी हार नहीं मानी तथा बल्ब का आविष्कार किया।

अतः एक साइंटिस्ट होने के लिए आपके अंदर धैर्य होना बेहद आवश्यक है तभी आप एक बड़ी रिसर्च खोज कर सकते हैं!

दोस्तों अब हम जान चुके हैं कि साइंटिस्ट बनने के लिए कौन कौन से गुण आपके अंदर होने जरूरी हैं! अब हम जानते हैं कि

कैसे आप एक साइंटिस्ट बन सकते हैं?

सबसे जरूरी बात आपको साइंटिस्ट बनने के लिए 10th की बाद science स्ट्रीम choose करनी होगी ।

जहां Chamistry, बायोलॉजी,फिजिक्स Math , इंग्लिश आदि सब्जेक्ट के साथ साइंटिस्ट बनने की ओर पहला कदम उठा सकते हैं!

तथा यदि आप इन साइंस के सब्जेक्ट को मन लगाकर पढ़ते हैं तथा 12वीं में अच्छे नंबरों से पास हो जाते हैं। 12वीं पास होने का मतलब सिर्फ अच्छे अंकों से नहीं है आपको विज्ञान के इन विषयों पर डिटेल में जानकारी होनी जरूरी है जो भविष्य में यह ज्ञान आपकी काफी मदद करेगा!

दोस्तों 12वीं कक्षा पूरी करने के बाद आप B. tech / BSC कर सकते हैं! तथा Higher एजुकेशन के लिए MSC , PHD या M tech, कोर्स कर सकते हैं तथा कोर्स करने के बाद विज्ञान के पदों के लिए निकलने वाली भर्तियों के लिए आवेदन कर सकते हैं।

पर एक बाद आपका जानना जरूरी है जैसे अन्य कोर्स ips, IAS ऑफीसर बनने की एक समय सीमा होती है।उस तरह एक वैज्ञानिक बनने के लिए कोई उम्र सीमा नहीं है। अतः आप दूसरे विभाग में नौकरी करते हुए भी अपने विषय पर रिसर्च करते हुए एक साइंटिस्ट बन सकते हैं!

Research Institute in india

दोस्तों यदि आप पढ़ाई के दौरान ही रिसर्च भी करना चाहते तो भारत में ऐसे कई research labs है जहां से आप अपनी पढ़ाई के साथ research भी कर सकते हैं !

◆पहला इंस्टिट्यूट CSIR (council of scientific and industrial research) ऑर्गनाइजेशन है जिसके अंतर्गत भारत मे 37 लैब्स तथा 39 फील्ड स्टेशन जिसमें 17000 से अधिक कर्मचारी हैं!

यदि आप साइंटिस्ट बनना चाहते हैं तो csir आपके लिए ही है। आप इसमें होने वाले एग्जाम तथा entrance एग्जाम को पास कर शामिल हो सकते हैं।

DRDO का पूरा नाम The Defence Research and Development Organisation  यह भारतीय सरकार की एजेंसी है! इसका हेड क्वार्टर दिल्ली में है DRDO विभिन्न क्षेत्रों जैसे-military technology which include aeronautics, armaments, combat vehicles, electronics, instrumentation engineering systems में कार्य करती है

वैज्ञानिकों की सैलरी कितनी होती है ?

वैज्ञानिकों की जॉब एक A ग्रेड जॉब होती है इसलिए उन्हें शुरुआत से ही काफी अच्छी सैलरी मिलती हैं जो समय और अनुभव के साथ साथ बड़ती जाती हैं | सैलरी के आलावा वैज्ञानिकों को कई सारे भत्ते आदि भी मिलते हैं और सैलरी से ज्यादा सम्मान इस क्षेत्र में हैं |

ISRO: Indian Space Research Organization

ISRO एक Space रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन है जो कि भारतीय सरकार की एजेंसी है। इसका मुख्यालय बेंगलुरु में स्थित है isro का मुख्य उद्देश्य space टेक्नोलॉजी तथा इसकी एप्लीकेशन की देश की आवश्यकता के मुताबिक विकसित करना है!

तो दोस्तों यह यह थे देश के मुख्य रिसर्च institute साथ ही bhabha atomic रिसर्च सेंटर तथा indian institute of Science भी इस लिस्ट में आते हैं। दोस्तों भअब हम जानते हैं कि एक साइंटिस्ट की सैलरी कितनी होती है?

तो दोस्तो यह जानना जरूरी है कि सैलरी आपके रिसर्च सेंटर पर निर्भर करती कि आप कौन से रिसर्च सेंटर पर जाते मान लीजिए कि आप nasa में साइंटिस्ट के रूप में कार्य करते हैं तो आप की अनुमानित सैलरी 43 लाख रुपये सालाना होती है।

और इस तरह सबसे अधिक nasa साइंटिस्ट की सैलरी मानी जाती है! और यदि आप किसी अन्य रिसर्च सेंटर जाते में काम करते हैं तो यह सैलरी अलग हो सकती है!

Scientist Banne Ke Tips

यहाँ पर आपको कुछ ऐसी टिप्स मिलेंगी जो आपके साइंटिस्ट बनने के सपने को पूरा करने में आपकी मदद करेगी. यदि आप इन सभी टिप्स को ध्यान-पूर्वक पढ़ते है. और इन्हे आप प्रतिदिन फॉलो करते है. तो यक़ीन मानिये आप जल्द ही देखेंगे कि आप अपनी मंजिल के बहुत करीब है. इसलिए इन सभी टिप्स को आप अपनाइए जरूर. यही टिप्स वैज्ञानिक बनने में आपकी सहायता करेगी.

  • सबसे पहले आप 10th से लेकर Postgraduate क्लासेज तक की मैथ, केमिस्ट्री, फिजिक्स व् बायो जैसे विषयों में अपनी पकड़ अच्छी कर लीजिए. क्योकि सभी साइंटिस्ट को अपने कार्य के लिए आँकड़ों (Statistics) की जरुरत पड़ती है.
  • उच्च विद्यालय के दौरान आप विज्ञान शिविर (Science camp) के लिए विचार करें। इस कैंप में जाने पर आपकी साइंस में प्रैक्टिकल नॉलेज बढ़ेगी.
  • एक साइंटिस्ट अपनी मातृ-भाषा (Mothertoungue) के साथ-साथ अन्य भाषाओं को बोलने व् समझने में भी उत्तम होता है. यदि आप साइंटिस्ट बनने के लिए इच्छुक है तो आप भी एक या दो विदेशी भाषाओं का ज्ञान होना आपके साइंटिस्ट बनने में आपके लिए मददगार साबित होगा. यदि आप विदेशी भाषा सीख़ पाते है. तो आप कुछ पुराने वैज्ञानिक रिसर्च को भी समझ सकते है. कुछ उपयोगी भाषाएँ फ्रेंच, जर्मन और रूसी को बोलने व् समझने की कोशिश करे.
  • एक साइंटिस्ट बनने के लिए प्रैक्टिकल अनुभव होना अनिवार्य है. इसके लिए आपके पास प्रयोगशाला अनुभव का सर्टिफिकेट होना भी जरुरी है. इसलिए आप प्रैक्टिकली चीजों को समझे.
  • साइंटिस्ट बनना कोई आसान काम नहीं है. इसमें आपको थोड़ा वक्त जरूर लग सकता है. इसलिए कैरियर की सीढ़ी चढ़ने में धीरज रखें।
  • जब आप किसी चीज को देखे. तो उससे जानने की कोशिश करे. कि यह कैसे बनी, किन -किन पदार्थो से मिलकर बनी, इससे आपकी सोचने की क्षमता बढ़ेगी. इसलिए हमेशा सीखते रहे.

वैज्ञानिक के नाम

तो चलिए अब आपको बताते है भारत के उन महान वैज्ञानिक के नाम के बारे में जिन्होंने विज्ञान क्षेत्र में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

  • सीवी रमन
  • जगदीश चंद्र बोस
  • होमी जे.भाभा
  • एम विश्वेश्वरैया
  • वेंकटरमन राधाकृष्णन
  • डॉक्टर APJ अब्दुल कला

Conclusion:-

दोस्तो आज के इस लेख में इतना ही उम्मीद है यह जानकारी आपको पसंद आई होगी! यदि आपका साइंटिस्ट बनने से संबंधित कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट के लिए पूछ सकते हैं। साथ ही इस लेख को सोशल मीडिया पर शेयर करे और अन्य दोस्तों के पास इस जानकारी को पहुंचाएं ताकि वे भी आपकी सहायता से साइंटिस्ट कैसे बनाये जान पाएं! Thanks for visiting in this blog https://tagifind.com

Leave a Reply