Computer CMOS Kya Hai – ओर कैसे काम करता हैं !

  • CMOS का इतिहास !
  • CMOS बैटरी कितने समय तक चलती है?
  • कौन से उपकरण CMOS का उपयोग करते हैं?

Computer CMOS Kya Hai – Hello दोस्तों! स्वागत है आपका tagifind साइट पर यदि आपको कंप्यूटर के Parts के बार में बारीकी से जानकारी होगी तो आपको Motherboad में लगी एक बैटरी के बारे में जरूर पता होगा! जी हाँ मैं बात कर रहा हूँ C-MOS बैटरी की! दोस्तों C-MOS बैटरी हमारे कंप्यूटर को ऑपरेट करने में सहायक होती है तथा यह अत्यंत महत्वपुर्ण बैटरी होती है! C-MOS बैटरी के कंप्यूटर में अनेक FUNCTION होते हैं और आज के इस लेख में हम जानेंगे C-MOS बैटरी क्या होती है? आपके कंप्यूटर या लैपटॉप में C-MOS बैटरी का क्या काम होता है! इस विषय पर विस्तारपूर्वक जानेंगे!

इसलिए यदि आप जानना चाहते है की C-MOS क्या है? तथा कंप्यूटर के अलावा इसका इस्तेमाल कहाँ-कहाँ किया जाता है? और आपके कंप्यूटर या लैपटॉप में C-MOS बैटरी खराब हो जाती है, तो आपके कंप्यूटर पर उसका क्या प्रभाव पड़ेगा! अतः आज का यह आपके लिए लाभदायक सिद्ध होने वाला है! क्योंकि यहां बेहद सरल एवं स्पस्ट शब्दों में आपको C-MOS बैटरी के बारे में बताया जा रहा है! अतः बिना समय बर्बाद किये हम सबसे पहले यह जानते हैं की C-mos बैटरी होती क्या है ? Computer CMOS Kya Hai

CMOS का इतिहास !This image has an empty alt attribute; its file name is cmos-kya-hai-hindi.jpg

मोटोरोला 146818 चिप शुरुआती RTC और CMOS रैम चिप थी जो आईबीएम कंप्यूटरों के शुरुआती दौर में इस्तेमाल की जाती थी। कुल 64 बाइट डेटा संग्रहीत करने में सक्षम। चूंकि सिस्टम क्लॉक में 14 बाइट्स रैम का इस्तेमाल किया गया था, इसने सिस्टम सेटिंग्स को स्टोर करने के लिए अतिरिक्त 50 बाइट्स छोड़ दिए। आज, अधिकांश कंप्यूटरों ने सीएमओएस से सेटिंग्स को स्थानांतरित कर दिया है और उन्हें साउथब्रिज या सुपर आई / ओ चिप्स में एकीकृत कर दिया है।

CMOS की खोज सबसे पहले किसने की थी?

सन 1963 में, Frank Wanlass ने सबसे पहले CMOS की खोज की थी. उन्होंने इसके ऊपर एक patent भी बना लिया जब वो Fairchild Semiconductor में कुछ experiment कर रहे थे.

CMOS बैटरी कितने समय तक चलती है ?

एक CMOS बैटरी का मानक जीवनकाल लगभग 10 वर्ष है। हालाँकि, यह कंप्यूटर के उपयोग और वातावरण के आधार पर भिन्न हो सकता है। दोस्तों इसके साथ ही आपका यह ध्यान में रखना जरूरी है की ! कुछ सालों बाद यह बैटरी खराब हो जाती है तो आप मार्किट से नई C-MOS खरीदकर नई बैटरी Motherboad में लगा सकते हैं! C-MOS बैटरी काफी कम दाम में मार्किट में उपलब्ध है

कौन से उपकरण CMOS का उपयोग करते हैं

  • डिजिटल लॉजिक सर्किट
  • SRAM (स्टेटिक रैम)
  • माइक्रोप्रोसेसर
  • माइक्रोकंट्रोलर्स

कौन से उपकरण CMOS का उपयोग करते है

यदि CMOS बैटरी विफल हो रही है, तो कंप्यूटर बंद होने के बाद कंप्यूटर पर सही समय या तारीख नहीं रख सकता है। उदाहरण के लिए, अपने कंप्यूटर को चालू करने के बाद, आप समय को 12:00 P.M पर सेट कर सकते हैं। और दिनांक 1 जनवरी, 1990 को वापस सेट है, यदि CMOS बैटरी विफल हो गई है। Computer CMOS Kya Hai

दोस्तों जिस तरह मोबाइल में एक बैटरी होती है ठीक उसी तरह कंप्यूटर या लैपटॉप में एक बबैटरी होती है जिसका नाम C-mos होता है! C-mos बैटरी की फुल form है “Complementry Metal Oxide Semicuductor” यह कंप्यूटर के Motherboard अर्थात pcb में लगी होती है!

परन्तु mobile की तरह C-MOS बैटरी का काम कंप्यूटर को चार्ज करना नही होता बल्कि समय तथा दिनांक (टाइम&date) show करना होता है!

दोस्तों C-MOS बैटरी 3v की होती है! इसे नॉन-वोलेटाइल मेमोरी के नाम से भी जाना जाता है! दोस्तो यहां आपका जानना जरूरी है की मदरबोर्ड में C-MOS एक chip होती है तथा विशिष्ट रूप से यह RAM चिप होती है! यह एक मेमोरी चिप का प्रकार है जो कंप्यूटर के विभिन्न उपकरणों तथा उनकी settings की जानकारी रखती है! Cmos का इस्तेमाल कंप्यूटर में सबसे अधिक होता क्योंकि यह कम heat (गर्मी) उत्पन्न करती है तथा कम पावर उपभोग करती है!

तथा कंप्यूटर के Power off हो जाने के बाद ram चिप में store डेटा गायब हो जाता है तथा C-MOS Chip में डेटा को पूण: प्राप्त (रिस्टोर) करने के लिए कंप्यूटर के Motherboard में एक बैटरी लगाई जाती है जिसे cmos के नाम से जाना जाता है! C-MOS बैटरी C-MOS चिप को लगातार पावर देती रहती है! Computer CMOS Kya Hai

दोस्तों हम आसानी से C-MOS बैटरी को Motherbaoard से निकाल या लगा सकते है! लेकिन यदि हम C-MOS बैटरी कंप्यूटर से निकाल दें या C-MOS बैटरी खराब हो जाती है तो C-MOS चिप में store जानकारी गायब हो जाती है!

तथा इस तरह C-MOS में स्टोर सभी Settings तथा डेटा गायब हो जाएंगी इसके साथ ही C-MOS बैटरी के खराब होने के बाद आपके कंप्यूटर का date& टाइम सेटिंग भी बदल हो जाती है! और आपके कंप्यूटर में date&time गलत दिखाई देता है!तथा दोबारा उस सेटिंग्स को restore करने के लिए Motherboard में C-MOS बैटरी इन्सर्ट करनी होगी!

अतः यदि आपके कंप्यूटर में बार-बार date & tiime गलत दिखाई देता है तो संभव है आपकि C-MOS बैटरी खराब हो! आपकी C-MOS बैटरी ठीक या नहीं यह पता करने का यह सबसे बेहतर तरीका है! Computer CMOS Kya Hai

C-MOS बैटरी का क्या काम होता है ?

This image has an empty alt attribute; its file name is Blue-Yellow-Illustrated-Office-Accountant-Professional-T-Shirt-796x1024.jpg

दोस्तों सरल शब्दो में C-MOS बैटरी के कार्य को समझें तो कंप्यूटर के Motherbaord में C-MOS चिप होती है जिसमें bios सेटिंग तथा date&time तथा वे सभी अन्य जानकारियां store होती है जो कंप्यूटर के स्टार्टअप होने के समय चाहिए होती हैं!

परन्तु जब कंप्यूटर शट डाउन हो जाता है या अचानक कंप्यूटर off हो जाता है तो इस स्तिथि में C-MOS बैटरी का काम सामने आता है!

C-MOS बैटरी C-MOS चिप को कंप्यूटर पावर होने के बाद भी लगातार पावर देता रहता है!इसलिए जब कभी C-MOS बैटरी खराब हो जाती है तो सिस्टम का डेट&टाइम बिगड़ जाता है!

तो दोस्तो आज के इस लेख को पढ़ने के बाद आप जान चुके होंगे की C-MOS बैटरी क्या होती है? C-MOS बैटरी का क्या काम होता है!! उम्मीद है आपको यह जानकारी पसंद आई होगी☺यदि आपको इस लेख से जुड़ा मन में कोई सवाल या विचार हैं तो आप कमेंट में बता सकते हैं!

साथ ही इस जानकारी को उन सभी कंप्यूटर यूजर्स के पास जरूर पहुंचाएं! ताकि वे भी C-MOS बैटरी की महत्वता को समझ सके!

CMOS की Applications क्या है

Complementary MOS या CMOS की processes को बहुत ही widely implement किया जाता है और साथ में ये fundamentally सभी NMOS और bipolar processes को replace कर दिया है सभी digital logic applications से. इस CMOS technology को नीचे दर्शाये गए digital IC designs में इस्तमाल किया जाता है.

  • Computer memories, CPUs में.
  • Microprocessor designs
  • Flash memory chip designing में.
  • साथ में इन्हें इस्तमाल किया जाता है design application specific integrated circuits (ASICs) में.

इन devices को बहुत से range के applications में analog circuits के साथ इस्तमाल किया जाता है जैसे की image sensors, data converters, इत्यादि.

CMOS के Advantages

चलिए CMOS के advantages, NMOS की तुलना में के बारे में जानते हैं : –

  • इसकी बहुत ही low static power consumption होती है
  • ये Circuit की complexity को कम करती है.
  • ये Chip में High density of logic functions प्रदान करती है.
  • इसमें Low static power consumption होती है.
  • इसकी High noise immunity होती है.

Conclusion

दोस्तों अंत में इसी तरह की उपयोगी जानकारियां सबसे पहले पाने के लिए यहां नोटिफिकेशन बेल अर्थात इस नीचे दिए घंटी के icon पर क्लिक जरूर करें! जिससे आपको हमारी लेटेस्ट पोस्ट की नोटिफिकेशन सबसे पहले मिले! Thanks for visiting  https://tagifind.com

ENTERTAINMENT

Leave a Reply